Corruption Culture Democracy Government Happiness Human Resource India Love Media Opinion Optimism Politics Productivity Radicalization Women

‘लव-जिहाद’ पर एक सोच

आये दिन ‘लव जिहाद’ के ऊपर काफी चर्चा हो रही है। आखिरकार यह ‘लव जिहाद’ है क्या? हाल ही देश के उच्चतम न्यालय ने ‘लव जिहाद’ के एक केस की तहकीकात करने के लिए ‘राष्ट्रीय जांच एजेंसी’ (NIA) को नियुक्त किया है। क्या यह समस्या इतनी संगीन है की इसके पीछे NIA को नियुक्त किया जाना चाहिए? जहां कुरान मे जिहाद का मतलब ‘धरम युद्ध’ है, वहीँ कुछ सूफी सिलसिले के गुरु मानते हैं की

Read more
18815115_1743191275696603_3791996266856918290_o
Love Relationship Social Work

An Open Letter from Love Matters India for you

Hi there! Got a minute to talk love and relationships? We have all been in love at some point, or are looking for it right now. Love and relationships are a very important aspect of our life. We meet people, and sometimes fall in love with them. And, while there is a lot of excitement during the initial phase of romance, there are also times when we realize that maintaining a healthy and happy relationship

Read more
Happiness Life Love Philosophy Relationship

A walk……

As I enter, it looked all grey… There is hardly any space, some things stuffed to the side, some thrown around. As I try looking further there are things which lay untouched. There isn’t much to explore as the space hasn’t been managed, it seems like it has been this way for a while. Yet I tread along ah! I do happen to notice some familiar stuff around too. As my walk got slower my

Read more
Featured Happiness Love Poem Poetry Relationship Romance Top

Only sometimes…

Those ignoring looks, not wanting to sideline me were never encountered before. Those kind greetings of half-done wicked smiles had given my earnest agonies, a gentle cure. That subtle touch whose twitch of pain, for my whole life, I’m ready to endure. How can I forget all those moments which though had filled my my memory with affluence, yet ,for which, I’ll forever crave to implore. Those glorious days had reached the climax along with

Read more
Entertainment Hindi Love Shayri Top Urdu

तेरे आने के बाद

जवाजे हिज्र को जाना तेरे आने के बाद I इतना रंगी हुआ है अब्र ज़माने के बाद I वस्ल से पहले बेकरारियां बेमानी न थीं, दिल ने जाना है इसे जाँ तेरे आने के बाद I बिजलियाँ दौड़ उठीं हैं मेरी रगो-पै में, बरसते आँख से बादल तेरे आने के बाद I देखके तुझको तेरे सारे सितम भूल गया, ग़मों का काम ही क्या है तेरे आने के बाद I

Read more
Featured Hindi Literature Love Poem Poetry Shayri Top Urdu

कोई हवा आई

समन्दरों के उधर से कोई हवा आई I दिलों के बंद दरीचे खुले हवा आई I नए मुहाज़ पे निकले हैं फिर से सौदागर, नए सफ़र की कशिश फिर नयी सुबह लाई I कोई तो शख्स है जिसने चमन से खार चुने, कोई वजह है गुलिस्तां में ये अदा आई I वोही है मर्ज़ इलाजे मरीज़ भी वो ही, ये कैसे मोड़ पे मुझको मेरी वफ़ा लाई I

Read more
Featured Hindi Love Poem Poetry Romance Shayri Top Urdu

संग दिल

संग दिल पर भी पड़ जायेंगे कुछ निशां I अश्क मेरे जो गिरते रहेंगे यहाँ I   वो पिघल जायेंगे और ज़ुरूर आयेंगे, हम जो जलते रहेंगे अगन में यहाँ I   वो गए जबसे ख्वाबों में हम खो गए, बंद आँखों से अब जायेंगे वो कहाँ I   वो मयस्सर नहीं उनका ग़म ही सही, इस बहाने से काटेंगे राहे जहाँ I   संग दिल पे ……

Read more
Featured Hindi Love Poem Poetry Romance Shayri Top Urdu

किसी की आमद आमद है

खिले हैं फूल ये दिल के किसी की आमद आमद है I नज़र की शम्मा रौशन है किसी की आमद आमद है I   नज़ारे आज खुश रंगों में डूबे हैं ज़रा देखो, लबों पे मुस्कराहट है किसी की आमद आमद है I   बिछाए दिल को बैठे हैं तसव्वुर है कोई आया, जवां चाहत जवां दिल है किसी की आमद आमद है I   निगाहें बारहा उठ जाती हैं हर उस तरफ यूँ ही,

Read more
lovestory
Hindi Love Poem Poetry

प्रेम कहानी

लड़की:–   तू मेरे दिल का राजा मैं तेरे दिल की रानी आओ हम तुम दोनों मिलकर लिखें प्रेम कहानी तू मेरे दिल का राजा मैं तेरे दिल की रानी लड़का:–   मैं तेरे दिल का राजा तू मेरे दिल की रानी आओ हम तुम दोनों मिलकर लिखें प्रेम कहानी लड़की:–   ऋतु ये सुहानी आई सावन के बदरा लाई जब ये बादल छाए गगन में रिम-झिम बरसा पानी तू मेरे दिल का राजा मैं तेरे दिल की

Read more
Featured Hindi Love Poem Poetry Romance Shayri Top Urdu

ढूंढता हूँ मैं

सोयी हुई यादों में तुम्हें ढूंढता हु मैं I दरिया के बीच जा के ज़मीं ढूंढता हूँ मैं I   मालूम नहीं हो गयी मुझसे कहाँ ख़ता, खुद अपने लिए आज सज़ा ढूंढता हूँ मैं I   ऐ चाँद आसमाँ के तू मुझको दे रौशनी, गुम हो गया है चाँद मेरा ढूंढता हूँ मैं I   यूँ खो गया राह में मुझसे मेरा नसीब, मिलते नहीं क़दमों के निशां ढूंढता हूँ मैं I

Read more