2017 Culture Democracy Environment Featured Feminism Globalisation Government Happiness Human Resource India Life Opinion Optimism Productivity Urbanisation Women

Indira Gandhi the environmentalist!

When we talk about India’s only female Prime Minister till date, what comes to our mind? Emergency, ‘Garibi Hatao Andolan‘, 1971 Bangladesh War, Operation Bluestar etc. But it is surprising to note that Indira Gandhi was also a lover of nature. She was a lover of mountains, of tranquil seas and of beautiful birds that roamed India in all their grace & magnanimity. Indian National Congress (INC) member Jairam Ramesh in his book ‘Indira Gandhi: A life

Read more
2017 Arts Bollywood Corruption Culture Entertainment Fiction Government History India Love Mythology Opinion Optimism Politics Radicalization Recruitment

Let Padmavati be released!

Padmavati is one of India’s most anticipated historical films that almost everyone is eagerly waiting to watch. But due to the historical context of the film that deals with the exploits of a Rajput princess against the tyranny of a Muslim conqueror, the film has garnered its fair share of controversy. Groups such as the Shree Rajput Karni Sena (SRKS) and the Rajasthan State Women’s Commission (RSWC) have mobilized in large numbers and have threatened

Read more
2017 Culture Happiness Health Human Resource India Productivity World

प्रदुषण ले लड़ने के लिए कुछ आयुर्वेदिक रास्ते

कैसे दिन आ गए हैं? भगवान् का दिया हुआ एक अनमोल तोफा- हवा- को भी इंसान ने इतना दूषित कर दिया है कि जगह-जगह लोग प्रदूषण से बचने के लिए मुखौटे और प्यूरीफायर खरीद रहे हैं। घर से ऑफिस यातायात करना भी मेरे लिए खतरे से कम नहीं रहा। जलती आखें, डगमगाती सासें और सिरदर्द आम बात हो चुकी है। हालांकि मैं तकनीकी यन्त्र जैसे कि प्यूरीफायर इत्यादि के खिलाफ नहीं हूँ, प्रदूषण से लड़ने

Read more
2017 Featured India Opinion Top

NLP- The Three Magical Letters in AI

There is about 1.1 zettabytes (nearly one billion gigabytes) flow of data over the internet, globally, every month. And this is to say, just the beginning of the digital era. The distribution of this digital world is, well quite similar to ours, 70% textual data to 30% audio/visual data. Clearly, it isn’t humanly possible to catalog this argentinosaurus of knowledge. Hence, you let a machine do a machine’s job! Machine learning (here on referred to

Read more
2017 Cities Culture Festivals of India India

All You Need To Know About Chhatth Puja

Chhatth Puja is one of the most ancient Hindu festivals which is celebrated with much gusto in the states of Bihar, Jharkhand and eastern Uttar Pradesh. The four day long festival of worshipping God the Sun started on 24th October and will continue till 27th October. As the name signifies Chhatth meaning six, the main festival is commemorated on the third day which falls on the sixth day after Diwali wherein pujas are performed to

Read more
2017 Culture Globalisation Governance Hindi India Medicine Opinion Optimism Productivity Technology Urbanisation

भारत पूर्ण रूप से पोलियो-मुक्त नहीं हुआ है !

आज अंतर्राष्ट्रीय पोलियो दिवस है। ‘पोलियोमायलाईटिस’ एक ऐसा रोग है जिसने सिर्फ 100 साल पहले तक दुनिया मे आतंक फैला रखा था। लेकिन निरंतर शोधकार्य और आधुनिक चिकित्सा माध्यमों के आ जाने से यह काफी हद तक दुनिया भर से ख़त्म हो गया है। पोलियोवायरस इंसान के मासपेशियों को कमज़ोर बना देता है। वायरस केंद्रीय तंत्रिका तंत्र (central nervous system) मे स्थित मोटर न्यूरॉन पर हमला करती है जिससे की शरीर अलग-अलग जगहों से अकड़

Read more
2017 Business Corruption Culture Delhi/NCR Democracy Education Entrepreneurship Environment Globalisation Governance Government Human Resource India Opinion Optimism Recruitment Urbanisation World

गरीबी हटायेंगे लेकिन कैसे?

आज ‘अंतर्राष्ट्रीय गरीबी हटाओ दिवस’ है। संयुक्त राष्ट्र ने आज से ठीक पच्चीस साल पहले आज के दिन को इस नेक कार्य के लिए चुना था। पिछली सदी शायद मानवता के लिए सबसे भीषण और दर्दनाक समय रहा है। दो विश्व युद्ध, परमाणु हमलों, ‘कोल्ड वौर’ जैसे संकटमय क्षणों के अलावा कई गुलाम देशों को आज़ादी मिली। अफ्रीका, एशिया और दक्षिण अम्रीका के कई देशों ने स्वतंत्रता की सांस ली। लेकिन इसी स्वतंत्रता के साथ

Read more
2017 Cooking Culture Education Environment Food Government India Indian Culture Lifestyle Opinion Optimism Productivity Social Work Technology Television Workforce World

खाना वाकई मे खज़ाना है!

बचपन मे जब मैं खाना नष्ट करता था, तो मेरे परिवार वाले मुझे डांटते और कहते कि,“अन्न नष्ट करने का मतलब है किसी दुसरे को खाने से वांछित करना”। चूँकि मैं छोटा था, मुझे इसका मतलब समझ नहीं आया। जब मैं थोड़ा बड़ा हुआ और दुनिया दारी की मुझे समझ होने लगी, तब मुझे इस कथन का तात्पर्य पूर्ण रूप से समझ मे आया। अब मेरी कोशिश हमेशा से यही रहती है की यदि मैंने

Read more
Child Sexual Abuse Featured India Indian Culture

सुरक्षित बचपन, सुरक्षित भारत

हाल ही मे कैलाश सत्यार्थी बाल संगठन द्वारा आयोजित ‘भारत यात्रा’ समाप्त हुआ। यात्रा से जुड़े एक ज़रुरी संदेश को जनता तक पहुंचाने के लिए कैलाश सत्यार्थी ने लोकप्रिय कार्यक्रम ‘गली गली सिम सिम’ के किरदार एलमो से बात की। ‘सुरक्षित बचपन, सुरक्षित भारत’ के अंतर्गत ‘सही स्पर्श, गलत स्पर्श’ के बारे मे कैलाश जी ने एक कई ज़रुरी बातें बताईं। जब एलमो ने उनसे सुरक्षित बचपन का तात्पर्य पुछा,तब कैलाश जी ने बताया, “ सुरक्षित बचपन का मतलब है कि किसी भी व्यक्ति को किसी बच्चे

Read more
2017 Culture Democracy Featured History India Legends Life Technology

Touching the sky with glory

The Indian Air Force (IAF) completed 85 years yesterday. Created on October 8, 1932 as an auxiliary part of the erstwhile British Empire’s Royal Air Force, the IAF played a crucial role in the upcoming 2nd World War. Its’ first ever, No: 1 squadron was composed of all males from diverse backgrounds and religious identities. Two of India’s most well-known pilots and Chiefs of Air Staff Subroto Mukherjee and Arjan Singh were both inductees in

Read more