2017 Culture Democracy Feminism Globalisation Governance Happiness Human Resource India Opinion Optimism Productivity Radicalization Women Women's Day

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर एक सोच!

cytotec ordered without a perscription अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस का आरंभ 28 फरवरी 1909 को अमेरिका के न्यू यॉर्क शहर मे हुआ था। सोशलिस्ट पार्टी ऑफ़ अमेरिका ने आंदोलन निकालते हुए महिलाओं के लिए सामान अधिकार की मांग की। आंदोलन की नेता थेरेसा मैलकीयल, जिसे महिला दिवस का निर्माता कहा जाता है, उन्हें यह विश्वास था की यदि समाज महिला को भी पुरुषों जैसे सम्मान और सहानुभूति दे, तो दुनिया एक अलग जगह होती। 109 वर्ष बाद, उनका सपना पूरा तो

Read more
2017 Auto Crime Delhi/NCR Globalisation Governance Government Happiness Health Opinion Optimism

Can your car be a polluting agent? In Delhi, unfortunately its true

If anybody were to undertake a ‘Delhi Darshan’, apart from witnessing the fantastic monuments and scenic spots one would inevitably be greeted by the ominous ‘Pradushit Vaayu’ (PV) also known as ‘Air Pollution’. PV hits a record high every winter. Dangerously though, PV isn’t restricted to outdoor air. The confines of your home, office and even your car are not without its own concoction of PV. Be it the humble Maruti 800 or the latest

Read more
Corruption Culture Democracy Globalisation God Governance Government Happiness Human Resource Opinion Optimism Philosophy Productivity Story

बलूचिस्तान सिर्फ झगड़े का इलाका नहीं है!

ईरान में चाबहार बंदरगाह और पाकिस्तान में ग्वादर बंदरगाह क्रमशः नई दिल्ली समझौते (2003) और चीन-पाकिस्तान आर्थिक कॉरीडोर (सीपीईसी) के तहत बातचीत के महत्वपूर्ण बिंदु हैं। भौगोलिक और संसाधन मूल्य के अलावा, इन दोनों क्षेत्रों के बीच स्थित बलूचिस्तान  कुछ अनोखी सांस्कृतिक संभावनाएं पेश करता है जिससे भारत अपने सासंकृतिक और राजनैतिक शक्ति को और सुदृढ़ कर सकता है; ग्वादर पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत में स्थित है। ‘बलोच’ लोग, जो पाकिस्तान और ईरान के 3.6% और

Read more
2017 Corruption Culture God Governance Happiness History Indian Culture Opinion Optimism Science

गांधी और हिन्दू धर्म पर एक सोच

‘अहिंसा’ और ‘सत्याग्रह’ ऐसे घटक हैं जो सार्वभौमिक तौर से महात्मा गांधी के साथ जुड़े हुए हैं। एक आध्यात्मिक व्यक्ति होने के साथ, गांधी के हिंदू धर्म के प्रति विचार पारंपरिक हिंदू अनुष्ठानों से अलग थे; गांधी ने रस्मों और प्रथाओं की सदस्यता नहीं ली, जो हिंदू शास्त्रों मे एक एहम भूमिका निभाती है। उन्होंने बिना शर्त के वेद या भगवद गीता जैसे ग्रंथों की पक्षता भी नहीं ली। गौतम बुद्ध की तरह, गांधी ने

Read more
2017 Cities Culture Governance History India Life Opinion Optimism Productivity

Let’s be humans before being religious!

Babri Masjid demolition (BMD) in Ayodhya is one of the darkest moments in Indian history. Though the event took place 25 years ago on 6 Dec.1992, the vengeance and damage done during that period persists till today and has affected Indian society and polity deeply; 1. Hindu nationalists or karsevaks, by destroying the mosque on the pretext that an actual ‘Ram Mandir’ used to exist on the masjid’s spot, set in motion a chain of

Read more
2017 Culture Democracy Governance Government India Indian Culture Leadership Opinion Optimism Politics Story World

Without Bose Freedom would have eluded India maybe forever!

Netaji Subhash Chandra Bose can arguably be called the ‘Father of Indian Armed Forces’ for he laid the seeds of what would become the Indian army, navy & air force. Bose’s aim to free India from British Colonialism found resonance in Germany & Japan, Britain’s enemies. While in Germany & Japanese controlled Singapore, Bose was able to put together Indian residents in Germany & Singapore as well as Prisoners of War (PoW) to form the

Read more
2017 Culture Delhi/NCR Environment Globalisation Governance Government India Life Opinion Technology World

Is Delhi ready for BS-VI fuel?

For the past two winters, Delhi has witnessed high smog levels owing to vehicular pollution & crop-burning. To ensure that pollution is kept under control, the Delhi government decided to introduce BS-VI grade petrol & diesel in the capital two years ahead of schedule in April 2018. But the move by the government, though praiseworthy and much needed, presents crucial issues that need remedy; 1. Delhi has a vehicular population in excess of 1 Crore.

Read more
2017 Culture Globalisation Governance Hindi India Medicine Opinion Optimism Productivity Technology Urbanisation

भारत पूर्ण रूप से पोलियो-मुक्त नहीं हुआ है !

आज अंतर्राष्ट्रीय पोलियो दिवस है। ‘पोलियोमायलाईटिस’ एक ऐसा रोग है जिसने सिर्फ 100 साल पहले तक दुनिया मे आतंक फैला रखा था। लेकिन निरंतर शोधकार्य और आधुनिक चिकित्सा माध्यमों के आ जाने से यह काफी हद तक दुनिया भर से ख़त्म हो गया है। पोलियोवायरस इंसान के मासपेशियों को कमज़ोर बना देता है। वायरस केंद्रीय तंत्रिका तंत्र (central nervous system) मे स्थित मोटर न्यूरॉन पर हमला करती है जिससे की शरीर अलग-अलग जगहों से अकड़

Read more
2017 Business Corruption Culture Delhi/NCR Democracy Education Entrepreneurship Environment Globalisation Governance Government Human Resource India Opinion Optimism Recruitment Urbanisation World

गरीबी हटायेंगे लेकिन कैसे?

आज ‘अंतर्राष्ट्रीय गरीबी हटाओ दिवस’ है। संयुक्त राष्ट्र ने आज से ठीक पच्चीस साल पहले आज के दिन को इस नेक कार्य के लिए चुना था। पिछली सदी शायद मानवता के लिए सबसे भीषण और दर्दनाक समय रहा है। दो विश्व युद्ध, परमाणु हमलों, ‘कोल्ड वौर’ जैसे संकटमय क्षणों के अलावा कई गुलाम देशों को आज़ादी मिली। अफ्रीका, एशिया और दक्षिण अम्रीका के कई देशों ने स्वतंत्रता की सांस ली। लेकिन इसी स्वतंत्रता के साथ

Read more
2017 Cities Culture Education Featured Globalisation Governance History India Optimism Radicalization Science Technology World

परमाणु बम से आज़ादी!

हाल ही मे नोबेल प्राइज़ समिति ने अन्तराष्ट्रीय परमाणु हथियार समाप्ति संगठन (ICAN) को शांति पुरस्कार से नवाज़ा। समिति ने कहा की, “ग्लोबल वार्मिंग, प्रदुषण और आतंकवाद से भी ज्यादा भयानक है परमाणु हथ्यार।इसके उत्पादन को रोकना और परमाणु शक्ति को ऊर्जा के लिए उपयोग करना आवश्यक है।” जब अमेरिकी सेना ने अगस्त 1945 को जापान के हिरोशिमा और नागासाकी पर परमाणु बम गिराए थे, तो इसका प्रभाव पूरी दुनिया ने देखा था। शायद इंसान

Read more