Poem Uncategorized Urdu

बड़ा झूठा हूँ मैं

तुझको अच्छा नहीं लगता हूँ मैं, क्या करूं जैसा  हूँ- वैसा  हूँ में. ज़िन्दगी रोज़ मुझसे मिलती है, उससे कहता हूँ-तू है तो हूँ मैं. जब भी तन्हा हो देखना मुड़के , ठीक पीछे तेरे खड़ा हूँ मैं. वैसे  दुश्मन समझता है मुझको, मुझसे कहता है तेरा दोस्त हूँ मैं. रु-ब-रु है मेरे दुनियां सारी, और तन्हा खड़ा लड़ता हूँ मैं. तुम भी बातों मैं आ गए मेरी, बहोत बेईमान- बड़ा झूठा हूँ मैं.

Read more
Featured

बहता है काजल

खन-खन, खन-खन खनके हैं कंगन, छम -छम, छम-छम छनके है पायल. नैना लड़ा के तूने ओ साजन, कर दिया  हाय रे मुझको घायल. मेरा ये लंहगा- मेरी ये चोली, कहते हैं मुझसे तू है अकेली. साजन, साजन बस एक साजन, कोई नहीं है तेरी सहेली. प्रेम में प्रियतम के हुई तू तो पागल, कर दिया हाय रे मुझको घायल. प्रभु मेरा साजन कितना बेगाना, प्रेम को मेरे जिसने न जाना. मैं तो दीवानी साजन की

Read more
Friendship Life Love Philosophy Relationship

हाँ, हम लिव-इन में हैं

कशिश और सार्थक अपनी शादी की शॉपिंग करते हुए बहुत खुश हैं. खुश क्यों न हों. लगभग दो वर्षों तक लिव-इन रिलेशन में रहने के बाद अब दोनों विवाह सूत्र में जो बंधने जा रहे हैं. दो वर्ष पूर्व जब अपने परिवार के खिलाफ जा कर उन्होंने लिव-इन में रहने का फैसला किया था तब दोनों ही डरे हुए थे कि उनके इस फैसले का भविष्य क्या होगा. लेकिन साथ रहते हुए उन्होंने महसूस किया

Read more
Featured Life Love Philosophy Romance Top

ब्रेक-अप के बाद

रिया का ब्रेक अप हुए तीन महीने से ज़्यादा हो गए हैं लेकिन वो अपने x-बॉयफ्रेंड को अब तक भूल नहीं पायी है. इसी के चलते वो मानसिक अवसाद झेल रही है. साथ ही वो किसी और के साथ रिलेशन भी नहीं बना पा रही हे. यह सच है कि  किसी भी रिश्ते का टूटना बहुत तकलीफदेह होता है. जिनसे हम भावनात्मक स्तर पर जुड़े होते हैं,  उनसे अलग हो कर अपने आप को संभाल पाना

Read more
Featured God Hindi Poem Poetry Top

एक बार तो आ जाओ

तेरे दरस के प्यासे नैना, एक झलक दिखला जाओ. मन से तुम्हें पुकारें साईं, एक बार तो आ जाओ. तुम्हें भक्त प्यारे हैं अपने, रखते सबका सदा ख़याल. फिर मुझ पर क्यों कृपा नहीं की ? बस मेरा है यही सवाल. कमी रह गयी कहाँ भक्ति में, इतना तो बतला जाओ. मन से तुम्हें पुकारें साईं, एक बार तो आ जाओ. दीप जलाए जल से तुमने, सबने देखा तेरा कमाल. महामारी को दूर भगाया, आई

Read more
Entertainment Featured Hindi Life Love Poem Poetry

अबकी बार जनम पाया तो

अबकी बार जनम पाया तो, प्रभु से तुम्हे मांग आऊंगा. नैनों में तस्वीर तुम्हारी, पांओं में ज़जीर पड़ी है. हर ख़त का उत्तर कैसे दूँ ? पहरे पर तक़दीर खड़ी है. कल को राज -ताज बदलेगा. ये सामान -साज बदलेगा. तुम सुनना, संसार सुनेगा. गीत-अगीत सभी गाऊंगा. अबकी बार जनम पाया तो, प्रभु से तुम्हे मांग आऊंगा. तुम मेरी हर सच्चाई को, कवि का पागलपन कहती हो. पर मेरे गीतों से अपना आँचल भरने को

Read more