Hug-couple-on-wood-girlfriend-boyfriend
Hindi Love Poem Poetry

मुझको करे बेचैन

FacebookTwitterGoogleLinkedIn


मुझको करे बेचैन

गोरी तेरा यों जाना

तेरा इठलाना,तेरा बल खाना

तेरा जाते हुए यों शरमाना

मुझको करे बेचैन

गोरी तेरा यों जाना

 

आओ कुछ पल साथ बितायें

नाचें, झूमें और हम गायें

जीवन भर का साथ हमारा

हम बिछड़े तो हो मर जाना

मुझको करे बेचैन

गोरी तेरा यों जाना

 

जाने का तुम नाम न लेना

जाने से जान चली जायेगी

दिल जो टूटे अपना साथी

कली प्यार की मुरझाएगी

चाहे कुछ भी अब हो जाये

फिर न कभी तुम हमें तरसाना

मुझको करे बेचैन

गोरी तेरा यों जाना

 

खुशियों भरा हो चमन हमारा

प्यार के हम मिल फूल ख़िलायें

अब तो साथी हम हैं तेरे

हमें जीवन भर है साथ निभाना

मुझको करे बेचैन

गोरी तेरा यों जाना

आओ चलें अब साथी मिलकर

सपनों का एक महल बनायें

फूल खिलें हों जिसमें सारे

फूलों की हम सेज बिछायें

ऐसा हो अपना एक आशियाना

मुझको करे बेचैन

गोरी तेरा यों जाना

Leave a Reply


Your email address will not be published. Required fields are marked *