Government India Life Opinion Poem Poetry Politics Poverty Social Social Values and Norms Uncategorized

जाति के नाम पर

यहाँ सब कुछ होता है जाति के नाम पर

यहाँ सब कुछ मिलता है जाति के नाम पर

देश यहाँ चलता है जाति के नाम पर

धर्म यहाँ पलता है जाति के नाम पर

समाज भी चलता है जाति के नाम पर

बच्चा पैदा होता है जाति के नाम पर

वह बड़ा होता है जाति के नाम पर

शिक्षा वह पाता है जाति के नाम पर

कर्म भी पाता है जाति के नाम पर

धर्म भी पाता है जाति के नाम पर

नोंकरी मिलती है जाति के नाम पर

शादी भी होती है जाति के नाम पर

भिखारी यहाँ होते हैं जाति के नाम पर

पुजारी भी होते हैं जाति के नाम पर

ऐश यहाँ करते हैं जाति के नाम पर

भूखे यहाँ मरते हैं जाति के नाम पर

संत यहाँ होते हैं जाति के नाम पर

महंत भी होते हैं जाति के नाम पर

एक अगर ज्ञानी है जाति के नाम पर

तो दूसरा मूर्ख है जाति के नाम पर

दिल यहाँ मिलते हैं जाति के नाम पर

भगवान भी मिलते हैं जाति के नाम पर

नेता होते हैं यहाँ जाति के नाम पर

प्रणेता भी होते हैं जाति के नाम पर

जायदाद मिली है जाति के नाम पर

व्यवसाय भी मिले हैं जाति के नाम पर

श्रेणियाँ बनती हैं यहाँ जाति के नाम पर

बेड़ियाँ भी मिलती हैं जाति के नाम पर

सज़ा मिलती है यहाँ जाति के नाम पर

मज़ा भी मिलता है जाति के नाम पर

अन्याय होता है यहाँ जाति के नाम पर

न्याय भी मिलता है जाति के नाम पर

समाज नीति बनती है जाति के नाम पर

राजनीति चलती है जाति के नाम पर

वोट यहाँ मिलते हैं जाति के नाम पर

नोट यहाँ मिलते हैं जाति के नाम पर

सरकार यहाँ बनती है जाति के नाम पर

आचार-विचार बनते हैं जाति के नाम पर

कितना कहें हम जाति के नाम पर

देश भी चलता है जाति के नाम पर

क्या नहीं होता यहाँ जाति के नाम पर

सभी कुछ होता है जाति के नाम पर

————

FacebookTwitterGoogleLinkedIn


Leave a Reply


Your email address will not be published. Required fields are marked *