Featured Hindi Love Poem Poetry Romance Shayri Top Urdu

किसी की आमद आमद है

खिले हैं फूल ये दिल के किसी की आमद आमद है I

नज़र की शम्मा रौशन है किसी की आमद आमद है I

 

नज़ारे आज खुश रंगों में डूबे हैं ज़रा देखो,

लबों पे मुस्कराहट है किसी की आमद आमद है I

 

बिछाए दिल को बैठे हैं तसव्वुर है कोई आया,

जवां चाहत जवां दिल है किसी की आमद आमद है I

 

निगाहें बारहा उठ जाती हैं हर उस तरफ यूँ ही,

जहाँ कदमों की आहट है किसी की आमद आमद है I

FacebookTwitterGoogleLinkedIn


Leave a Reply


Your email address will not be published. Required fields are marked *